समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने जनसंख्या पर दिए बयान को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा है कि अराजकता आबादी से नहीं लोकतंत्र के मूल्यों की बर्बादी से उपजती है. विश्व जनसंख्या दिवस पर योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि एक वर्ग की जनसंख्या बढ़ने से अराजकता फैलीगी.

योगी आदित्यनाथ ने विश्व जनसंख्या दिवस पर लखनऊ में कार्यक्रम में यूपी की बढ़ती आबादी पर चिंता जताई थी और यह बयान दिया था. इसके अलावा योगी आदित्यनाथ के पापुलेशन कंट्रोल वाले बयान पर संभल से समाजवादी पार्टी के नेता शफीकुर्रहमान बर्क ने भी पलटवार किया है. उन्होंने कहा है कि औलाद पैदा करने का जाति तौर पर इंसान से कोई ताल्लुक नहीं है. बच्चे पैदा करने का ताल्लुक अल्लाह से है.

शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि भाजपा सरकार जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाए जाने की जगह मुस्लिमों की तालीम का बंदोबस्त करें. जब बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलेगी तो मुस्लिम कौम में बढ़ती आबादी की समस्या अपने आप खत्म हो जाएगी. उन्होंने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर धर्म विशेष पर बयानबाजी की जा रही है, ताकि एक वर्ग का वोट बीजेपी को मिल सके. सरकार का यह नजरिया ठीक नहीं है.

समाजवादी पार्टी के नेता ने कहा है कि योगी का बयान मुस्लिमों का हौसला तोड़ने के लिए है. सरकार कभी मुस्लिमों की आबादी कम करने की बात कहती है, कभी बढ़ती आबादी के लिए मुस्लिमों को जिम्मेदार ठहराती है. देश में बेरोजगारी, महंगाई समेत बुनियादी चीजों पर से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए बीजेपी के नेताओं की तरफ से गलत बयान बाजी की जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here