Nupur Sharma

बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. पैगंबर मोहम्मद पर विवादित बयान के लिए शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें कड़ी फटकार लगाई है और कहा है कि नूपुर शर्मा के गैर जिम्मेदाराना बयान ने देश में लोगों की भावनाओं को भड़काने का काम किया है.

अब दिल्ली पुलिस सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद दोबारा नूपुर शर्मा से पूछताछ कर सकती और फिर से उन्हें नोटिस भेजा जा सकता है. विवादित बयान को लेकर नूपुर शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद दिल्ली पुलिस ने 14A तहत नूपुर शर्मा को जांच में शामिल होने के लिए नोटिस भेजा था और वह जांच में शामिल हुई थी.

दिल्ली पुलिस ने 18 जून को नूपुर शर्मा का बयान दर्ज किया था. लेकिन सुप्रीम कोर्ट के सवालों के बाद फिर से उनसे पूछताछ की जा सकती है. सर्वोच्च अदालत ने अपनी टिप्पणी में पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा था कि एफआईआर दर्ज होने के बाद भी कोई कार्यवाही क्यों नहीं की गई?

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा को टीवी पर आकर पूरे देश से माफी मांगने के लिए कहा है. नूपुर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट ने फटकार भी लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाते हुए कहा है कि सत्ता की ताकत दिमाग पर हावी नहीं होनी चाहिए. कोर्ट ने कहा है कि आपने माफी मांगने में देर कर दी. इससे पहले नूपुर शर्मा के वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल ने जानबूझकर यह बयान नहीं दिया.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी या तो सस्ता प्रचार पाने के लिए या किसी राजनीतिक एजेंडे के तहत या किसी घृणित गतिविधि के तहत की है. शीर्ष अदालत ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर नूपुर शर्मा की माफी का उल्लेख करते हुए कहा कि यह बहुत देर से मांगी गई और उनकी टिप्पणी के कारण दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here