अंतरराष्ट्रीय मीडिया और देश के बुद्धिजीवियों पर भड़कीं कंगना रनौत

0
kangna

देश में बढ़ रही कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से अब तक करोड़ों लोग प्रभावित हो चुके हैं. सरकार के पास कोरोना वैक्सीन और टेस्ट करने की गति को लेकर कमियां निकल रही हैं. भारत में बढ़ती महामारी को देश के साथ दुनिया के तमाम देशों के अखबारों और टीवी चैनलों में दिखाया जा रहा है, जिस पर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने आपत्ति जताई है.

कंगना रनौत ने फैंस के साथ एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मीडिया और भारत के बुद्धिजीवियों पर निशाना साधा है. इस वीडियो में वह कह रही हैं, कोरोना के सिवाय ऐसी बहुत सारी चीजें हैं, जो परेशान करने वाली हैं, जिन्हें मैं आपके साथ डिस्कस करना चाहती हूं. कभी आपने देखा है भारत में कोई आपदा आती है, संकट आता है तो एक इंटरनेशनली एक मुहिम चलती है और सारे देश एक साथ हो जाते हैं.

कंगना रनौत आगे कहती हैं, भारत को ऐसे दिखाया जाता है कि जैसे तुम लोग तो अभी-अभी बंदर से इंसान बने हो. चार गोरों के सिवाय जबतक वो आकर गुलाम नहीं बनाएंगे, जबतक तुम्हें नहीं बताएंगे क्या करना है, कैसे उठना, बैठना, खाना है. तुमको तो पता ही नहीं है कि डेमोक्रेसी क्या है. तुम्हें किससे सुनना चाहिए. तुम्हारे को अक्ल ही नहीं है. तो हम तुम्हें बताएंगे कि क्या करना है. इनका चैनल बनता है ये जो बुद्धिजीवी हैं.

कंगना ने आगे कहा, आप बताइए टाइम की मैगजीन पर लाशों को फोटोज आते हैं. ये फोटोज बेस्ट सेलिंग है. बरखा दत्त जी जाती हैं सीएनन पर. रोती हैं कि हम लोग बंदर है. राणा अय्यूब और अरुंधति रॉय ये सब भारतीय हैं. ये लोग उनके सोर्स बनते हैं. जोकि भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उसकी इमेज गिराता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here