कृषि कानूनों के खिलाफ प्राइवेट मेंबर बिल लाने की तैयारी

0
kisan-andolan

तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए पंजाब से कांग्रेस सांसद लोकसभा में प्राइवेट मेंबर बिल लाएंगे. पंजाब से कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने मीडिया को बताया कि कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए लोकसभा में कांग्रेस सांसद बिल लाएंगे.

सांसद मनीष तिवारी, प्रनीत कौर, जसवीर सिंह गिल और संतोष चौधरी मिलकर इस बिल को लाएंगे. मनीष तिवारी ने बताया कि दूसरे सांसदों का भी इस बिल को साथ मिलेगा जो कि किसानों के प्रति सहानुभूति रखते हैं. मनीष तिवारी ने कहा कि कि वे राज्यसभा में कांग्रेस सांसदों से कहेंगे कि वह भी इस तरह का बिल लाएं.

कृषि कानूनों के खिलाफ प्राइवेट मेंबर बिल लाने पर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने कहा, सरकार जैसा बर्ताव कर रही है और किसानों की बात नहीं सुन रही है. हमारे पास अपने संसदीय अधिकारों का उपयोग करके खेती से जुड़े इन तीन कानूनों को रद्द करने के लिए इसे लाने के सिवा कोई चारा नहीं रह गया है.

बता दें कि पिछले साल नवंबर महीने से किसान तीन कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं और दिल्ली की सीमा पर बैठकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. केंद्र सरकार ने पिछले साल सितंबर में संसद से ये कानून पारित कराए थे. बता दें कि जिस तरह से सरकार को संसद में कानून पारित कराने का अधिकार होता है वैसे ही हर एक सांसद को संसद से कानून पारित कराने का अधिकार होता है. संसद सत्र के एक तय दिन पर सांसदों को प्राइवेट मेंबर बिल लाने का अधिकार होता है.

बता दें कि संसद से अभी तक सिर्फ 14 प्राइवेट मेंबर बिल ही पास हो चुके हैं. कृषि कानूनों का विरोध करने वाले किसानों का कहना है कि वे गतिरोध को खत्म करने के लिए केंद्र के साथ बातचीत करने को तैयार हैं. हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में किसानों से बातचीत के लिए अपील की थी.

किसान नेता शिवकुमार कक्का ने पीटीआई से कहा, हमने कभी भी बातचीत करने से इनकार नहीं किया है. जब भी सरकार ने हमें बुलाया है, हमने केंद्रीय मंत्रियों के साथ चर्चा की है. हम उनके साथ बातचीत के लिए तैयार हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here