राकेश टिकैत ने फिर दोहराई अपनी बात

0
Rakesh-Tikait

किसान आंदोलन के बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार बातचीत से इस समस्या का हल निकाले. हम बातचीत के लिए तैयार हैं, किसान मोर्चा के जो 40 संगठनों की 40 सदस्यों की कमेटी है, उससे सरकार बात करे. राकेश टिकैत ने दिल्ली पुलिस का भी धन्यवाद किया.

उन्होंने कहा कि यह गन्ने के रेट का भी आंदोलन है, तीन क़ानूनों का भी आंदोलन है, पूरे देश में किसानों की जहां-जहां समस्या हैं, ये आंदोलन उसका है. पुलिस प्रशासन ने पहले हमारा जो सहयोग किया, उसी सहयोग की हम उम्मीद करते हैं. निर्मला सीतारमण ने कहा कि किसानों को जिन क्लॉज पर आपत्ति है, उनके बारे में सरकार को बताए. सरकार उन पर विचार करके आवश्यक सुधार करने को तैयार है.

निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार किसानों से बातचीत के लिए हर वक्त तैयार है. पीएम ने भी बातचीत को ऑफर को दोहराया है…बातचीत का ये ऑफर किसानों के लिए आज भी मौजूद है. आपको बता दें कि कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर सिंघु, टीकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन जारी है.

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक अहम फैसले में 2 फरवरी (मंगलवार) की रात को 11 बजे तक इंटरनेट सेवाएं निलंबित करने का फैसला लिया है. इसके तहत मंगलवार रात 11 बजे तक टीकरी बॉर्डर, सिंघु बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर इंटरनेट सेवा बंद रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here