अर्नब गोस्वामी विवाद पर रिपब्लिक ने जारी किया बयान, सवाल अब भी कायम

0
arnav-goswami

रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी और ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता के लीक हुई कथित WhatsApp चैट्स ने विवाद खड़ा कर दिया है. ‘द टेलीग्राफ’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन चाइट्स को लेकर पाकिस्तान ने भी रिपब्लिक टीवी पर तंज़ कसा है और उनसे पूछा है कि “NM”और “AS” क्या है?

अर्नब गोस्वामी की इस कथित चैट में पुलवामा हमले और और फिर बालाकोट स्ट्राइक्स का ज़िक्र किया गया है. इन चैट्स के स्क्रीनशॉट्स वायरल होने के बाद सवाल उठाए जा रहे हैं कि पुलवामा हमले और बालाकोट पर भारत की सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी अर्नब गोस्वामी को पहले से कैसे थी? रविवार की रात इस विवाद पर रिपब्लिक ने एक बयान जारी किया.

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने कहा कि समय-समय पर रिपब्लिक ने पाकिस्तान और भारत में कांग्रेस पार्टी के बुरे इरादों को उजागर किया है. जैसे-जैसे दिन बीतेंगे, हम इस साजिश का पर्दाफाश करेंगे. 267 शब्दों के अपने बयान में रिपब्लिक ने कांग्रेस से आग्रह किया कि वह भारत सरकार के हितों के खिलाफ झूठ फैलाने के लिए, जानबूझकर या अनजाने में पाकिस्तान सरकार के साथ मिलकर काम करना बंद कर दे.

लेकिन अपने ब्यान में रिपब्लिक ने “NM” या “AS” को लेकर कुछ नहीं बोला. बता दें 14 फरवरी 2019 को पुलवामा के करीब एक सीआरपीएफ़ काफिले पर आतंकी हमला हुआ था. इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे. उस दिन दासगुप्ता के साथ अपनी कथित बातचीत में गोस्वामी पहले कहते हैं कि उनका चैनल कश्मीर में साल के सबसे बड़े आतंकी हमले पर 20 मिनट आगे थे.

वहीं बालकोट स्ट्राइक से तीन दिन पहले 23 फरवरी 2019 को गोस्वामी कथित तौर पर दासगुप्ता को बताते हैं कि, कुछ बड़ा होने वाला है. जब दासगुप्ता पूछते हैं कि क्या उनका मतलब दाऊद से है, तो अर्णब जवाब देते हैं, नहीं सर, पाकिस्तान, इस बार कुछ बड़ा किया जाएगा. बता दें ये लीक चैट्स TRP स्कैम मामले में मुंबई पुलिस की चार्जशीट का हिस्सा हैं. गोस्वामी के चैट्स सामने आने के बाद उन पर अपने चैनल को टीआरपी का फायदा पहुंचाने के लिए पत्रकारिता की नैतिकता को ताक पर रखने के आरोप लगने शुरू हो गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here