रुबिका लियाकत एक बार फिर हो गई ट्रोल

1
Rubika-Liyaquat
फोटो साभार (सोशल मीडिया)

आजकल अधिकतर मीडिया चैनल और पत्रकार मोदी सरकार के समर्थक हैं. हर पत्रकार मोदी मंत्र के जाप में लगा हुआ है. और विपक्ष को कटघरे में खड़ा करने की इन पत्रकारों में होड़ भी लगी हुई है.

राहुल गांधी अपनी नानी से मिलने के लिए इटली क्या गए, इन पत्रकारों को जैसे राहुल गांधी को और कांग्रेस को बदनाम करने का एक मुद्दा मिल गया. इन्होंने यह भी नहीं सोचा कि आखिर किन परिस्थितियों में वह गए हुए हैं? कहीं उनकी नानी की तबीयत ज्यादा सीरियस तो नहीं?

इन पत्रकारों ने राहुल गांधी के इटली जाने के मुद्दे को इस तरह उठाया मानो देश में किसान आंदोलन समाप्त हो चुका है, देश की जीडीपी 5 ट्रिलियन की हो चुकी है, पीएम केयर्स फंड की जानकारी सरकार जनता को दे चुकी है.

रुबिका लियाकत भी मोदी सरकार की समर्थक पत्रकार मानी जाती है और अक्सर मोदी सरकार की गलतियों का बचाव करते हुए विपक्ष को कटघरे में खड़ा करते रहती हैं. इस बार भी रुबिका लियाकत ने ऐसा ही कुछ किया.

रुबिका लियाकत ने उनके शो पर एक डिबेट कराई जिसकी फोटो के साथ उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट किया था कि “छोड़ के पीछे किसान राहुल चले मिलान” रुबिका लियाकत ने राहुल गांधी से सवाल ऐसे किया और उनकी इटली जाने की खबर पर रिएक्शन ऐसा दिया मानो राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री हैं.

रुबिका लियाकत के ट्वीट के नीचे तरह तरह की प्रतिक्रिया आने लगी. डॉ. मोनिका सिंह नामक यूजर ने रुबिका लियाकत का रिप्लाई करते हुए लिखा कि, राहुल गांधी के देश के प्रधानमंत्री हैं? कृषि मंत्री हैं? या किसान राहुल गांधी से बात करने के लिए बैठे हैं 1 महीने से? रीढ़ विहीन पत्रकार यह सवाल मोदी से करो कि अंडमान के किसानों से बात करने का समय है, लेकिन सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों से बात करने का समय नहीं है. गोदी मीडिया शर्म कर.

विवेक नामक यूज़र ने लिखा कि बहुत सही देश के प्रधानमंत्री राहुल गांधी से यह सवाल होना ही चाहिए. सद्दाम शेख नामक यूजर ने रुबिका लियाकत का रिप्लाई करते हुए लिखा कि, क्या कोई एंकर मोदी जी से यह सवाल करने की हिम्मत कर सकता है? यह वह साहब हैं जो विपक्ष में थे तब सुपरमैन थे, देश की जनता ने इनको चुना अब देश को बोल रहे हैं महंगाई पेट्रोल-डीजल हमारे हाथ में नहीं. जनता की आवाज गोदी मीडिया की गाड़ियां तो पानी पर चलती होंगी.

चमन लाल ठाकुर ने रुबिका लियाकत का रिप्लाई करते हुए लिखा कि, कुछ शर्म कर मोदी की दलाल. तब तुम कहां थे गोदी मीडिया वाले जब अन्ना मूवमेंट में कोई सुषमा, राजनाथ, वेंकैया नायडू, रमन सिंह, वसुंधरा राजे, शिवराज कहां है यह सवाल कभी किया तुम लोगों ने? तो आज विपक्ष की इतनी तलाश क्यों? क्योंकि मोदी की चमचागिरी करनी है. और तुम थकते नहीं हो कौन सा टॉनिक लेते हो?

फैन ऑफ अलका लांबा नमक यूजर ने लिखा कि, यह पत्रकार कहते हैं खुद को शर्म नहीं आती. किसानों की समस्याओं का हल निकालने की औकात नहीं. सरकार से सवाल पूछने की औकात नहीं. जब तुम्हारे बाप सरकारी खर्च पर वर्ल्ड टूर घूमने निकला कितना कवरेज की हो सच्ची पत्रकार?

आपको बता दें कि भारतीय मीडिया गोदी मीडिया के नाम से कुख्यात हो चुकी है जो सरकार से सवाल पूछने की हैसियत खो चुकी है घूम फिर कर विपक्ष को बदनाम करने का एजेंडा गोदी मीडिया ढूंढ कर लाती है और उसी से देश को गुमराह करती है

1 COMMENT

  1. […] रुबिका लियाकत (Rubika liyaquat) सोशल मीडिया (Social media) के माध्यम से अक्सर मौजूदा सत्ता पक्ष के समर्थन में अपनी बात रखी रहती हैं. रुबिका लियाकत को कुछ लोग बीजेपी समर्थक न्यूज रीडर भी कहते हैं. […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here