ऐसे ही बंगाल में 200 सीटें जीतने का दावा नहीं कर रहे हैं अमित शाह, जानिए पूरा “मास्टर प्लान”

0
amit_shah

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां अभी से शुरु हो चुकी है. हाल ही में अपने 2 दिन के बंगाल दौरे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ऐलान किया था कि, भाजपा 200 से ज्यादा सीटें जीतकर प्रदेश के अंदर सरकार बनाने जा रही है.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस बयान पर तृणमूल कांग्रेस ने भी पलटवार किया था कहा था कि, गृह मंत्री को पश्चिम बंगाल की राजनीति की समझ नहीं है. हालांकि अमित शाह ने यह बयान यूं ही नहीं दिया है. बल्कि उन्होंने पश्चिम बंगाल को लेकर तैयार किए गए अपने “मास्टर प्लान” के तहत ही दिया है.

सूत्रों के मुताबिक अमित शाह जनवरी में पश्चिम बंगाल का दूसरा दौरा करने वाले हैं और इसके बाद फरवरी से अपनी योजना के तहत पूरी तरह चुनावी तैयारियों को अंजाम देने में अमित शाह जुट जाएंगे.

हर महीने 1 हफ्ते बंगाल रुकने का प्लान

सूत्रों से जो जानकारी निकल कर आ रही है उसके मुताबिक जनवरी में अमित शाह अपने दूसरे दौरे के बाद फरवरी से हर महीने 1 हफ्ते के लिए पश्चिम बंगाल में ही रहेंगे. अभी हाल ही में पश्चिम बंगाल दौरे के दौरान एक आंतरिक बैठक में अमित शाह ने खुद इस बात की जानकारी प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी थी. भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि, अमित शाह के दूसरे पश्चिम बंगाल दौरे के लिए 2 तारीख फाइनल की जा रही है. पार्टी की तरफ से इनमें से एक तारीख 12 जनवरी फाइनल की जा सकती है, तो दूसरी तारीख 23 जनवरी की है. जो पहली है उस दिन स्वामी विवेकानंद की जयंती है और दूसरी तारीख जो है उस दिन नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती है.

अमित शाह बढ़ाएंगे कार्यकर्ताओं का मनोबल

पश्चिम बंगाल के भाजपा नेताओं के मुताबिक अमित शाह के दौरे को लेकर ज्यादा उम्मीद 23 जनवरी की ही लगाई जा सकती है. भाजपा नेताओं के मुताबिक, आंतरिक बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ने बताया है कि फरवरी के बाद से विधानसभा चुनाव तक वह पश्चिम बंगाल में हर महीने करीब 1 हफ्ते तक रुकेंगे. गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी से राज्य में उन पार्टी कार्यकर्ताओं की हिम्मत और हौसला बढ़ेगा जो पिछले काफी समय से उत्पीड़न शह रहे हैं.

आपको बता दें कि अमित शाह की बीते दिनों बंगाल में हुई रैली में टीएमसी से इस्तीफा देने वाले सुवेंदु अधिकारी सहित 11 विधायकों और एक सांसद ने भाजपा की सदस्यता ली थी. इसके अलावा आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा की 294 सीटें हैं राज्य में मई-जून 2021 तक विधानसभा के चुनाव हो सकते हैं. हालांकि चुनाव आयोग ने अभी तक विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं किया है.

आंकड़े साझा करते हुए ममता का पलटवार

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा बंगाल की अर्थव्यवस्था की आलोचना पर मंगलवार को फैक्ट चेक करते हुए कहा कि चूंकि वह गलत साबित हुए हैं तो गृह मंत्री को उन्हें ढोकला ट्रीट देनी चाहिए. बीजेपी और अमित शाह, जो कि पिछले 4 महीने से बंगाल चुनाव के लिए पार्टी के मुख्य रणनीतिकार भी हैं, के ख‍िलाफ ममता बनर्जी ने अपना हमला जारी रखते हुए कुछ आंकड़े सामने रखे और कहा कि बंगाल में उद्योगों और अपराध को लेकर उनके दावे गलत साबित हुए.

ममता बनर्जी ने कहा, अमित शाह को मुझे ट्रीट देनी चाहिए. मुझे ढोकला व अन्य गुजराती व्यंजन पसंद हैं. पिछले सप्ताहांत अमित शाह बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर थे और उस दौरान उन्होंने एक रैली को भी संबोध‍ित किया जिसमें ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के विद्रोही नेता बीजेपी में शामिल हुए. उसके बाद अमित शाह ने कहा कि बंगाल में ‘दीदी’ की नजरों के सामने कानून व्यवस्था चरमराई हुई है और विकास रुक गया है. तब से ममता बनर्जी हर दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस का उन आरोपों का खंडन कर रही हैं.

ममता बनर्जी ने कहा, अमित शाह जानबूझकर पश्चिम बंगाल की निराशाजनक तस्वीर पेश करने का प्रयास कर रहे हैं. पिछले 10 वर्षों में तृणमूल कांग्रेस के शासनकाल में बंगाल में राजनीतिक हत्याएं कम हुई हैं. सभी विकास सूचकांकों पर पश्चिम बंगाल अन्य राज्यों से आगे है. ममता बनर्जी ने कहा, उन्होंने बंगाल को एक दुःस्वप्न भूमि की तरह बना दिया. उन्होंने बंगाल को एक ऐसे राज्य के रूप में द‍िखा द‍िया जो क‍ि बहुत ही बुरा कर रहा है, अव‍िकस‍ित है और यहां नौकरियां नहीं हैं…. क्या आपने 11 साल पहले बंगाल को देखा था? आप कैसे तुलना कर सकते हैं? मुझे सच से कोई आपत्त‍ि नहीं है लेकिन अगर आलोचना में कोई सच्चाई नहीं है तो मैं इसे चुनौती दूंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here