TMC सांसद महुआ मोइत्रा का अमित शाह पर हमला

0
Mahua Moitra

तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मित्रा ने संसद में उनके भाषण को लेकर उठे विवाद पर कहा है कि उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा है. टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने इस महत्वपूर्ण वक्त में गृह मंत्री अमित शाह के संसद की बजाय पश्चिम बंगाल में होने पर सवाल उठाए.

विशेषाधिकार हनन के प्रस्ताव पर मोइत्रा ने कहा कि यह BJP की आदत है, जो किसी न किसी तरीके से दूसरों को चुप कराना चाहती है. तृणमूल कांग्रेस सांसद का कहना है कि विशेषाधिकार हनन के लिए अनुच्छेद 121 का हवाला दिया गया है.लेकिन उन्होंने जो कहा है वह पब्लिक डोमेन है.

उन्होंने किसी संविधान के प्रावधान का उल्लंघन किया है. मोइत्रा ने कहा, सांसद होने के नेता उनका यह विशेषाधिकार है कि जो कुछ उनके मन में है, वह सबके सामने रखें. मैंने सिर्फ सच्चाई सामने रखी है. संसद में भाषण के कुछ अंश हटाए जाने के सवाल पर मोइत्रा ने कहा, लोकसभा की वेबसाइट पर अभी यह उपलब्ध है. मैंने किसी संसदीय प्रक्रिया का उल्लंघन नहीं किया है.

टीएमसी सांसद ने कहा कि संसद चालू है, लेकिन गृह मंत्री अमित शाह बंगाल में हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चीन के मुद्दे पर अहम जानकारी दे रहे हैं. भीमा कोरेगांव और 26 जनवरी की हिंसा को लेकर अहम खुलासा हुआ है, लेकिन उनकी प्राथमिकता कुछ और है. ‘जय श्री राम’ के नारे पर मोइत्रा ने कहा कि ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और तृणमूल कांग्रेस को बीजेपी ने गलत समझा है.

उन्होंने कहा. हम क्या कहेंगे और कब कहेंगे, इसके लिए बीजेपी से पूछने की जरूरत नहीं है. कोई हमें न बताए कि हमें कौन सा नारा देना है. TMC अपनी पहचान और संस्कृति को लेकर बेहद स्पष्ट है. बंगाल की जनता सब जानती है. 294 सीटों की विधानसभा में कुछ विधायकों के BJP के पाले में जाने पर कहा कि कुछ नेताओं को लगता है कि टीएमसी में सीट नहीं मिलेगी, लिहाजा उन्हें छोड़ दिया. दूसरी पार्टियों से भी कई नेता दूसरी जगह गए हैं.

‘यहां प्रचार के लिए आइए लेकिन धमकी देने की कोशिश मत करिए’

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के पहले सत्‍तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और मुख्‍य विपक्षी दल बीजेपी के बीच ‘बयान वार’ जारी है. बीजेपी के पूर्व अध्‍यक्ष और केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कूच बिहार में रैली करके राज्‍य की सीएम ममता बनर्जीऔर उनकी सरकार पर निशाना साधा था. ममता दीदी भी कहां पीछे रहने वाली थीं, उन्‍होंने अमित शाह को अपने ही अंदाज में जवाब दिया. ममता ने कहा, हम उनका स्‍वागत करते हैं लेकिन जो बात उन्‍होंने कही, उनकी बॉडी लेंग्‍वेज, मानसिकता और धमकी भरा व्‍यवहार उनकी पोजीशन के लिहाज से अनुकूल नहीं कहा जा सकता. आप मुझे ‘गाली’ तो दे सकते हैं, मेरी अनदेखी नहीं कर सकते.

सीएम ममता बनर्जी ने कहा, हर समय वे बंगाल को ‘गाली देते’ रहते हैं. यहां प्रचार के लिए आइए लेकिन मुझे धमकी देने की कोशिश मत करिए. मुझे आपसे कोई भय नहीं है. दीदी को कुछ भी करने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता.’ ममता ने कहा, मैं इसी भूमि पर जन्‍मी हूं, श्री रामकृष्‍ण और स्‍वामी विवेकानंद को मैंने पढ़ा हैं. आप मुझे धमकी नहीं दे सकते. मैं ‘इस खेल’ के लिए तैयार हूं, देखना चाहती हूं कि आप कितने ‘गोल’ कर पाते हैं. यदि आपको विश्‍वास होता तो बेफिजूल की बात नहीं करते. यह बंगाल है आपकी गुंडागर्दी यहां नहीं चलने वाली.

गौरतलब है कि अपनी चुनावी रैली में अमित शाह ने ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि, बंगाल में जय श्री राम बोलना आपने गुनाह कर दिया. बंगाल में जय श्री राम नहीं बोला जाएगा तो पाकिस्तान में बोला जाएगा. आप ही बताएं कि क्या जय श्री राम नहीं बोलना चाहिए. ममता दीदी को ये अपमान लगता है. आपको क्यों लगता है? उन्होंने आगे कहा, पूरा देश और दुनियाभर में करोड़ों लोग श्रीराम को याद करके गौरव महसूस करते हैं, लेकिन आपको ये अपमान लगता है. मैं आपको वादा करता हूं कि जब तक चुनाव खत्म होंगे, ममता दीदी भी ‘जय श्री राम’ कहने लगेंगी. अमित शाह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने अब तक 130 बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारा है, उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया है. एक बार हमारी सरकार सत्ता में आएगी, तो इन हत्यारों को जेल भेजेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here