Mehbooba Mufti Ramnath Kovind

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि निवर्तमान राष्ट्रपति अपने पीछे एक ऐसी विरासत छोड़ गए हैं जहां संविधान को अनेक बार कुचला गया. महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट करके कहा है कि चाहे आर्टिकल 370 की बात हो, नागरिकता कानून हो या अल्पसंख्यकों या दलितों को निशाना बनाना हो, उन्होंने भारतीय संविधान के नाम पर बीजेपी के राजनीतिक एजेंडे को पूरा किया.

इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने हर घर तिरंगा अभियान को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में जिस तरह प्रशासन छात्रों, दुकानदारों और कर्मचारियों को राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए भुगतान करने के लिए मजबूर कर रहा है, ऐसा लगता है कश्मीर एक दुश्मन क्षेत्र है जिसे कब्जा करने की जरूरत है.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में जनता से अपील की है कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सभी लोग 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों में तिरंगा फहराएं. इस अभियान को हर घर तिरंगा नाम दिया गया है. भारत सरकार का कहना है कि इस मौके पर 20 करोड़ लोग घरों पर तिरंगा फहराएंगे.

महबूबा मुफ्ती ने इस पर आपत्ति जताई थी. उन्होंने कहा हम 15 अगस्त मनाते हैं, 26 जनवरी मनाते हैं, क्योंकि हम आजाद हुए थे, एक देश बने. उन्होंने कहा जम्मू कश्मीर, हम मुस्लिम राज्य होने के बावजूद पाकिस्तान के साथ नहीं गए हमने सेकुलरिज्म के लिए भारत का झंडा कबूल किया. लेकिन आज यह लोग घर में घुस घुस कर झंडा लगा रहे हैं. जबकि यह लोग भगवा झंडे को मानने वाले हैं. यह लोग तिरंगे की इज्जत ना करने वाले लोग हमारे घरों में घुस घुस कर झंडा लगा रहे हैं.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here